बलात्कार का गढ़ बना अलवर एक और बलात्कार 4 आरोपी गिरफ्तार

37

अलबर का थाना गाजी बना बलात्कार का गढ़  एक और बलात्कार की घटना सामने आयी जिसमे  27 अप्रेल को लड़की भर्तहरी धाम गई थी। जहां उसे कैलाश मीणा और उसके तीन चार साथी मिले। बातचीत के दौरान कैलाश ने पीड़िता को गन्ने का रस पिलाया।जिसको पीने  के बाद उसे चक्कर आने लगे। पीड़िता का कहना है कि उसने चक्कर आने की बात कही।तब कैलाश व उसके साथी उसे डॉक्टर को दिखाने के नाम के बहाने बहला फुसलाकर अपनी बोलेरो में बैठा लिया। जब उसे होश आया तब उसने खुद को एक कमरे में पाया। वहां अंधेरा था। वहां विश्राम नाम का युवक भी था। उसने पीड़िता के साथ जबरन दुष्कर्म किया।इसके बाद अगले दिन वे लोग उसे प्रताप गांव ले गए। जहां उसे जान से मारने की धमकी दी। रिपोर्ट के मुताबिक वहीं, विश्राम की पत्नी राजकुमारी भी आई। उसने कहा अब तुझे कैलाश की पत्नी बनकर रहना है, वरना तेरे भाई को झूठे केस में फंसा देंगे।पीड़िता के मुताबिक वहां भी उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। रातभर कमरे में बंद रखा और फिर सुबह जयपुर ले गए। वहां कैलाश व परमानंद ने उसके साथ दुष्कर्म किया। उसे जबरन कार में बैठाकर अजमेर ले गए। वहां उसे अपने परिचित रिश्तेदार मिले।इनकी मदद से उसने किसी तरह आरोपियों के कब्जे से खुद को मुक्त करवाया। पहले वह घबराकर चुप रही। इसके बाद हिम्मत कर परिजनों को आपबीती बताई। इसके बाद पीड़िता अपने परिजनों के साथ थानागाजी पुलिस थाने पहुंची। वहां सामूहिक दुष्कर्म व अपहरण का मुकदमा दर्ज करवाया। पीड़िता द्वारा आरोपियों को फांसी की सजा की मांग  की हे 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.