हनुमान बेनीवाल से नाराज हुए भाजपा सांसद रामचरण बोहरा व कांग्रेस विधायक अशोक चांदना

669

First Hindi News

जयपुर

राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के मुखिया हनुमान बेनीवाल अपने बयानों की वजह से हमेशा चर्चा में रहते हैं। 11 फरवरी को विधायक हनुमान बेनीवाल ने विधानसभा में जयपुर के श्रीराम नगर में फर्जी पट्टे जारी करने को लेकर भाजपा सांसद रामचरण बोहरा के पुत्र पर आरोप लगाया था, इसके अलावा बेनीवाल ने सदन पर गुर्जर आरक्षण आंदोलन पर हंगामा करते हुए कांग्रेस और भाजपा दोनों पर हमला किया था।

बेनीवाल के बयान के बाद राजनीतिक माहौल गर्मा गया। मीडिया से बातचीत करते हुए जयपुर के भाजपा सांसद रामचरण बोहरा ने बेनीवाल के प्रति अपनी नाराजगी प्रकट करते हुए कहा कि बेनीवाल एक अच्छे विधायक हैं लेकिन उन्हें सदन में उनके पुत्र का नाम नहीं लेना चाहिए था। वह दोनों सदन के सदस्य नहीं है इसलिए उनका नाम लेना सदन की मर्यादा के खिलाफ है। भाजपा सांसद बोहरा ने कहा कि अगर सरकार चाहे तो इस पूरे मामले की जांच करा लें,, दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा। वह किसी से डरने वाले नहीं है।

वही गुर्जर आरक्षण आंदोलन पर हनुमान बेनीवाल के हंगामे के बाद कांग्रेस विधायक अशोक चांदना भी खासे नाराज है। चांदना ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि गुर्जरों को हनुमान बेनीवाल आरक्षण दे दें।

हनुमान बेनीवाल के बयान के जवाब में चांदना ने कहा कि बयान देना आसान है लेकिन उसे पूरा करना काफी कठिन है। कांग्रेस विधायक अशोक चांदना ने कहा कि सरकार अति शीघ्र गुर्जर आरक्षण आंदोलन का हल ढूंढ निकालेगी और निश्चित ही कल 13 फरवरी को आंदोलन समाप्त करवा देगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.